Author: Hindiwalablog

Janmashtami Messages | SMS | Wishes in hindi & English – Greetings

Janmashtami Messages | SMS | Wishes in hindi & English – Greetings

Motivational
श्री कृष्ण के कदम आपके घर आये, आप खुशियो के दीप जलाये,परेशानी आपसे आँखे चुराए, कृष्ण जन्मोत्सव की आपको शुभकामनायें . (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); दही की हांड़ी, बारिश का फुहार, माखन चुराने आये नन्दलाल   वृंदावन का रास रचाये, आ गया नन्द लाल कृष्ण कन्हैया.. जन्माष्टमी के इस अवसर पर , हम ये कामना करते हैं कि श्री कृष्ण की कृपा आप पर, और आपके पूरे परिवार पर हमेशा बनी रहे। शुभ जन्मआष्टमी! (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); आओ मिलकर सजाये नन्दलाल को, आओ मिलकर करें उनका गुणगान! जो सबको राह दिखाते हैं, और सबकी बिगड़ी बनाते हैं! शुभ जन्मआष्ट्मी! राधा की भक्ति , मुरली की मिठास , माखन का स्वाद और गोपियों का रास , सब मिलके बनाते हैं जन्माष्टमी का दिन ख़ास। नन्द के घर आनंद भयो, हाथी घोड़ा पालकी, जय कन्हैया लाल की! शु
आखिर किस वजह आमिर खान की दीवानी हुईं कैटरीना कैफ मजेदार बात जानें

आखिर किस वजह आमिर खान की दीवानी हुईं कैटरीना कैफ मजेदार बात जानें

Trending
आखिर कैटरीना ठग्स ऑफ हिंदुस्तान' में साथ कर रहे हैं काम (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इन दिनों तो जैसे कैटरीना कैफ सातवें आसमां पर है और हो भी क्यों ना? आखिर बॉलीवुड में इस समय वही एकमात्र ऐसी अदाकारा है जिसके हाथ में तीनों खान (शाहरुख, सलमान और आमिर) की फिल्में है. बात करें आमिर खान की तो उनकी फिल्म 'ठग्स ऑफ हिन्दुस्तान' में कटरीना महत्वपूर्ण रोल में नजर आएंगी. बता दें कि ऐसा दूसरी बार होगा कि पर्दे पर हम आमिर और कैटरीना को एकसाथ स्क्रीन शेयर करते हुए देखेंगे. इससे पहले दोनों 'धूम 3' में नजर आ चुके हैं. बता दें कि 'ठग्स ऑफ हिन्दुस्तान' के सेट पर कुछ ऐसा हुआ कि कैटरीना इन दिनों सिर्फ आमिर के नाम की ही माला जप रही हैं. कैटरीना आमिर के वजन घटाने-बढ़ाने से हैं हैरान हमारी सहयोगी वेबसाइट की खबरे के मुताबिक, एक सुत्र ने बताया कि कैटरीना यह देखकर हैरान ह
हम जो देते है जिन्दगी में हमे वही वापिस मिलता है

हम जो देते है जिन्दगी में हमे वही वापिस मिलता है

Hindi Stories
हम में से हर किसी के पास अपनी जिन्दगी है लेकिन फिर भी कुछ लोग होते है जो असल मायने में इसे जीते है या यूँ कहूँ एक संजीदा जिन्दगी जो दूसरों के लिए भी खुशियों के मायने बने ऐसी जिन्दगी जी पाना बहुत मुश्किल होता है क्योकि हम लगातार चीजों को ignore मारते चले जाते है जबकि ये एक सत्य है कि जितना हम दूसरो के लिए बेहतर बन पाते है उतना ही हम अपने लिए भी बेहतर होते है क्योकि जिन्दगी में हम उतना ही पाते है जितना किसी दूसरे को देने में हम समर्थ होते है | एक कहानी के जरिये आप इसे समझ सकते है | (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); ” एक दिन एक बच्चा अपनी माँ से नाराज हो जाता है तो जब उसे डांट दिया जाता है तो गुस्सा होकर वो घर से बाहर चला जाता है और घर से थोड़ी दूर एक पहाड़ी पर जाकर जोर से चिल्ला कर बार बार कहता है कि ” मैं तुमसे नफरत करता हूँ ” तो थोड़ी ही देर बाद उसे अपनी ही
आपके शब्द आपको असफलता दिला सकते है

आपके शब्द आपको असफलता दिला सकते है

Hindi Stories
एक जुमला प्रचलित है कि ” मुंह से निकले शब्द वापिस नहीं लिए जा सकते ठीक वैसे ही जैसे धनुष से निकला हुआ तीर कभी वापिस नहीं आता ” इसलिए हमे बड़ी सावधानी से अपने शब्दों का चुनाव करना चाहिए बडबोलापन दोस्तों के बीच आपको जरूर लोकप्रियता दिला सकता है लेकिन कभी कभी ये नुकसानदेह होता है क्योकि पहली दफा हमसे मिलने के बाद जो छवि किसी इन्सान के लिए बनती है उसमे उस से हुई हमारी बातचीत का ही शत प्रतिशत योगदान होता है उसके बाद बाकि सारी चीजों का नंबर आता है | हम एक कहानी के जरिये इसे समझते है (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); एक आदमी ने अपने पडोसी को बहुत बुरा भला कहा जबकि बाद में उसे अपनी गलती का अहसास हुआ तो वो पश्चाताप करने चर्च गया वंहा जाकर पादरी के सामने ये कॉन्फेशन दिया तो पादरी ने उस से एक पंखो से भरा थैला दिया और उस से कहा कि जाकर किसी खुली जगह में बिखेर तो तो पा
एक फ़कीर और सिकंदर का राज्य

एक फ़कीर और सिकंदर का राज्य

Hindi Stories
सिकंदर जब भारत लौटा तो एक फ़कीर से मिलने गया तो सिकंदर को आते देख फ़कीर हंसने लगा इस पर सिकंदर ने ने मन में किया कि ये तो मेरा अपमान है और फ़कीर से कहा “या तो तुम मुझे जानते नहीं हो या फिर तुम्हारी मौत आई है ” जानते हो मैं कौन हूँ | मैं हूँ सिकंदर महान | (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इस पर फ़कीर और भी जोर जोर से हंसने लगा |उसने सिकंदर से कहा मुझे तो तुम में कोई महानता नजर नहीं आती मैं तो तुम्हे बड़ा दीन और दरिद्र देखता हूँ तो सिकंदर ने उस से कहा तुम पागल हो गये हो मैंने पूरी दुनिया को जीत लिया है तो इस पर उस फ़कीर ने कहा ऐसा कुछ नहीं है तुम अभी भी साधारण ही हो फिर भी तुम कहते तो मैं तुमसे एक बात पूछता हूँ कि मान लो तुम किसी रेगिस्तान मे फंस गये और दूर दूर तक तुम्हारे आस पास कोई पानी का स्त्रोत नहीं है और कोई भी हरियाली नहीं है जन्हा तुम पानी खोज सको तो